कवि ने कविता में ‘आदमी’ शब्द की पुनरावृत्ति किस उद्देश्य से की है?

 

‘आदमी’ शब्द की पुनरावृत्ति करने के पीछे कवि का यह उद्देश्य है कि संसार का सारा कार्य-व्यापार आदमी के सहारे से ही चल रहा है। समाज में घटित होने वाले अच्छे-बुरे सभी प्रकार के कार्य आदमियों के द्वारा संपन्न किए जाते हैं। इस कारण ईश्वर ने इस संसार में भिन्न-भिन्न प्रवृत्तियों वाले आदमियों की रचना की है।
643 Views

निम्नलिखित पंक्तिओं को पढ़कर पूछे गए प्रशनों के उत्तर दीजिये:
दुनिया में बादशाह है सो है वह भी आदमी
और मुफ़लिस-ओ-गदा है सो है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा है सो है वो भी आदमी
निअमत जो खा रहा है सो है वो भी आदमी
टुकड़े चबा रहा है सी है वो भी आदमी
यह पद्याशं आपको क्यों प्रभावित करता है?
  • अलग-अलग स्थितियों का चित्रण है 
  • गीतात्मक होने के कारण
  • आदमी के बारे में जानकारी के कारण
  • आदमी के बारे में जानकारी के कारण

D.

आदमी के बारे में जानकारी के कारण
173 Views

निम्नलिखित पंक्तिओं को पढ़कर पूछे गए प्रशनों के उत्तर दीजिये:
दुनिया में बादशाह है सो है वह भी आदमी
और मुफ़लिस-ओ-गदा है सो है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा है सो है वो भी आदमी
निअमत जो खा रहा है सो है वो भी आदमी
टुकड़े चबा रहा है सी है वो भी आदमी
कवि इस पंक्तियों के माध्यम से क्या कहना चाह रहा है?

  • आदमी का मिला जुला रूप
  • आदमी के विविध रूप
  • परिश्रम का भाग्य पर प्रभाव
  • परिश्रम का भाग्य पर प्रभाव

D.

परिश्रम का भाग्य पर प्रभाव
180 Views

निम्नलिखित पंक्तिओं को पढ़कर पूछे गए प्रशनों के उत्तर दीजिये:
दुनिया में बादशाह है सो है वह भी आदमी
और मुफ़लिस-ओ-गदा है सो है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा है सो है वो भी आदमी
निअमत जो खा रहा है सो है वो भी आदमी
टुकड़े चबा रहा है सी है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा से क्या तात्पर्य है-
  • बादशाह फ़कीर
  • दौलत मंद
  • मालदार और कमजोर 
  • मालदार और कमजोर 

C.

मालदार और कमजोर 
159 Views

निम्नलिखित पंक्तिओं का पूछे गए प्रशनों के उत्तर दीजिये:
दुनिया में बादशाह है सो है वह भी आदमी
और मुफ़लिस-ओ-गदा है सो है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा है सो है वो भी आदमी
निअमत जो खा रहा है सो है वो भी आदमी
टुकड़े चबा रहा है सी है वो भी आदमी
आदमी की क्या पहचान है?
  • बादशाह
  • फकीर
  • मालदार
  • मालदार

D.

मालदार
386 Views

निम्नलिखित पंक्तिओं को पढ़कर पूछे गए प्रशनों के उत्तर दीजिये:
दुनिया में बादशाह है सो है वह भी आदमी
और मुफ़लिस-ओ-गदा है सो है वो भी आदमी
ज़रदार बेनवा है सो है वो भी आदमी
निअमत जो खा रहा है सो है वो भी आदमी
टुकड़े चबा रहा है सी है वो भी आदमी
आदमी के भोजन के विषय में क्या कहा गया है?

  • स्वादिष्ट भोजन खाने वाला
  • चट्‌पटा भोजन
  • तीखा भोजन
  • तीखा भोजन

A.

स्वादिष्ट भोजन खाने वाला
284 Views